किस ख़त में रखकर भेजूँ, अपने इंतजार को – Hindi Shayari

किस ख़त में रखकर भेजूँ, अपने इंतजार को,
बेजुबां है इश्क़, ढूंढता है ख़ामोशी से तुझे..

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *