Category - Hindi Befwa Shayari

तु भी आईने की तरह बेवफा निकला

तु भी आईने की तरह बेवफा निकला,
जो सामने आया उसी का हो गया.!!

इश्क़ अब इश्क़ नही रहा-गोरखधंधा हो गया – Hindi Shayari

नाज़ था जिन अपनों पे उनसे ही शर्मिंदा हो गया है ,
महंगा था इसका मोल कभी;
अब जी एस टी सा मंदा हो गया है,
इश्क़ अब इश्क़ नही रहा गोरखधंधा हो गया है।