दर्दे दिल की दवा नहीं करते – Urdu Shayari

दर्दे दिल की दवा नहीं करते, ये करम दिलरुबा नहीं करते |
चोट खाई तो ये यकीन हुआ, हुशन वाले कभी दुआ नहीं करते ||

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *