छोड़ तो सकता हूँ

छोड़ तो सकता हूँ, मगर छोड़ नहीं पाता उसे,
वो शख्स मेरी बिगड़ी हुई आदत की तरह है..

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *